दो बच्चे रात को एक दुकान से संतरों की टोकरी चुराकर लाए

और सोचा कि इनका बंटवारा कर लेते हैं ।

एक ने कहा कि चलो कब्रिस्तान में चलकर बंटवारा कर लेते हैं ।

तब वो दोनों कब्रिस्तान के दरवाजे को फांदकर अंदर जाते हैं ,

उसी समय दो संतरे टोकरी में से गिर जाते हैं ।

वो उन्हे अनदेखा कर आगे बढकर एक कब्र के पास बैठकर संतरों का बंटवारा करते हैं ।

एक तेरा एक मेरा,

एक तेरा एक मेरा ।

एक  तेरा  एक. मेरा

उसी समय एक शराबी वँहा से गुजरता है ।

जैसे ही वो “एक तेरा एक मेरा ” की आवाज सुनता है

उसका नशा उतर  जाता है और भागता हुआ पादरी के पास जाता है
और कहता है कि कब्रिस्तान में भगवान और शैतान आपस में मुर्दों को बांट रहे हैं ।

मैंने उन्हें      एक तेरा एक मेरा     कहते सुना है ।

इतना सुनकर पादरी उस शराबी के साथ जाता है

और जैसे ही दोनों कब्रिस्तान के गेट तक पहुँचते है
वैसे ही उल्टे पाँव वापस भाग जाते है
.
क्योंकि
.
अंदर से आवाज आती है इनका तो बंटवारा हो गया
.
लेकिन
.
.
जो दो कब्रिस्तान के दरवाजे के पास है उनका क्या करें ।